आउट्रामघाट पर विश्व हिंदू परिषद के सेवा शिविर में पुण्यार्थियों का समागम

कोलकाता, 10 जनवरी (हि.स.)। त्रेता युग में मकर संक्रांति की जिस पुण्यतिथि पर स्वर्ग से उतरी मां गंगा ने सागर तट पर कपिल मुनि के आश्रम के पास उनके श्राप से भस्म हुए हुए राजा सगर के हजारों पुत्रों की अस्थियों को स्पर्श कर मोक्ष दिया था, उसी तिथि पर पुण्य स्नान के लिए देशभर से लाखों सनातनी समुदाय का समागम कोलकाता में शुरू हो गया है। यहां आउट्रामघाट पर लगे शिविर में कलयुग के भगीरथ सैकड़ों स्वयंसेवी संस्थाओं ने देश भर से एकत्रित होने वाले पुण्यार्थियों की सेवा, भोजन, चिकित्सा रहने आदि की व्यवस्था के लिए शिविर लगाए हैं जिसमें विश्व हिंदू परिषद का शिविर बेहद खास है। यहां मैदान के मध्य में लगे कैंप में भगवान राम, लक्ष्मण और सीता के साथ भक्ति मुद्रा में बैठे भक्त शिरोमणि हनुमान की मूर्ति स्थापित की गई है। यहां हजारों तीर्थयात्री नियमित पूजा पाठ कर रहे हैं। यहां रोज कम से कम तीन हजार से अधिक पुण्यार्थियों के भोजन, चाय आदि की व्यवस्था की गई है। विश्व हिंदू परिषद की ओर से महावीर प्रसाद बजाज ने बताया कि हर साल यहां सेवा शिविर लगाया जाता है। इसके साथ ही गंगासागर में भी सेवा शिविर लगा है। दोनों जगहों पर पहुंचने वाले लाखों पुण्यार्थियों की सेवा ही विश्व हिंदू परिषद का मुख्य मकसद है। उन्होंने बताया कि स्वामी विवेकानंद ने नर सेवा ही नारायण सेवा कहा था। वैसे भी हमारे सनातन में यह मान्यता है कि सारे तीरथ बार बार और गंगा सागर एक बार। इसीलिए दुनिया के किसी भी हिस्से में बसे हिंदू समुदाय के लोग गंगासागर तीर्थ में एक बार पुण्य स्नान के लिए जरूर आते हैं। गंगासागर पहुंचने से पहले आउट्रामघाट सेवा शिविर उनका पड़ाव होता है जहां हफ्ते भर उनके रहने खाने की व्यवस्था विश्व हिंदू परिषद समेत अन्य कलयुग के भगीरथ तपस्वियों द्वारा बनाई गई संस्थाओं की ओर से किया जाता है। आज मंगलवार को विश्व हिंदू परिषद के गंगासागर मेला सेवा शिविर का उद्घाटन हुआ। इसके लिए पहले गायत्री परिवार ने गायत्री मंत्र के साथ यज्ञ किया। उसके बाद गंगा आरती हुई और फिर प्रथम पूजित देव भगवान गणेश आराधना के साथ शिविर का उद्घाटन किया गया है। मशहूर समाजसेवी द्वारका प्रसाद डाबरीवाल ने इसका उद्घाटन किया। उनके साथ प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्य आचार्य राकेश कुमार पांडे, आलमबाजार रामकृष्ण आश्रम के अध्यक्ष स्वामी सरदात्मानंद महाराज, जनहित संकल्प के अध्यक्ष यशवंत सिंह, परिषद के अध्यक्ष महेंद्र कुमार शर्मा और मंत्री सत्यनारायण मोरीजावाला की उपस्थिति विशेष रही है। समारोह की अध्यक्षता राकेश कुमार पांडे ने की जबकि स्वामी सरदात्मानंद महाराज ने आशीर्वचन दिया। यशवंत सिंह मुख्य वक्ता थे। कार्यक्रम को सफल बनाने में हकीकत राय कपूर, मोहन लाल पारीक, सूरज प्रकाश, विजय हरभजनका, सुमन तोषनीवाल, उषा बाघेला, अशोक दुबे और रामगोपाल सुंघा का विशेष योगदान रहा है।——

बिहारी नागरिक संघ का भी सेवा शिविर शुरू
– इसी तरह से आउट्रामघाट मैदान में बिहारी नागरिक संघ का सेवा शिविर मंगलवार से शुरू हुआ है। उद्घाटन मौके पर संघ के अध्यक्ष नरेश श्रीवास्तव ने बताया कि यहां नियमित तौर पर तीर्थ यात्रियों की सेवा सुश्रुषा की जा रही है। उनकी चिकित्सा की व्यवस्था के साथ ही सारा दिन खाने पीने की व्यवस्था रहती है। दिन भर लंगर चलता है जिसमें अनगिनत लोग भोजन करते हैं। उन्होंने बताया कि उनके लिए चाय पीने की व्यवस्था और रहने की व्यवस्था की गई है जिसमें कम से कम तीन से पांच हजार लोगों की सेवा नियमित तौर पर की जाती है। कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था से जुड़े नरेश शाह ने की। उन्होंने कहा कि हर साल यहां सेवा शिविर लगाया जाता है। पुण्यार्थियों को कोई असुविधा न हो इसी का विशेष तौर पर ख्याल रखने के लिए इस शिविर का आयोजन किया जाता है।

हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश

About लोक टीवी

Check Also

रुकुंदीपुर के मुखिया पति की गोली मारकर हत्या, विधायक ने कहा : बिहार में व्याप्त है अराजकता

लोक संवाददाता, सिवान, 7 नवंबर। जिले में आपराधिक वारदात थमने का नाम नहीं ले रहे …

Gram Masala Subodh kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *