सुव्यवस्थित वंदना सभा विद्या भारती विद्यालयों की मुख्य पहचान : मुकेश नंदन

सीवान, 11 मई :

विद्या भारती के विद्यालयों में शिक्षा के साथ-साथ चरित्र निर्माण का कार्य किया जाता है । हमारा स्पष्ट मानना है कि चरित्रवान छात्र-छात्राएं ही विकसित, समर्थ और शक्तिशाली भारत का नेतृत्व कर सकते हैं।

उक्त बातें विद्या भारती अखिल भारतीय शिक्षण संस्थान की उत्तर बिहार प्रांत इकाई लोक शिक्षा समिति, बिहार के प्रदेश सचिव मुकेश नंदन ने बुधवार को सीवान के बरहन गोपाल स्थित महावीरी सरवस्ती विद्या मंदिर के वंदना सभा को संबोधित करते हुए कहीं।


उन्होंने कहां कि विद्या भारती विद्यालयों में छात्र-छात्राओं को भारतीय सांस्कृतिक ज्ञान परम्परा के आधार पर आधुनिक तकनीकी से युक्त शिक्षा दी जाती है। वंदना सभा हमारे शिक्षा पद्धति का एक प्रमुख केन्द्र है। इसलिए विद्या भारती का यह आग्रह रहता है कि अपने विद्यालयों में वंदना सभा पुरी तरह सुव्यवस्थित होनी चाहिए।

इस मौके पर लोक शिक्षा समिति, बिहार के विभाग निरीक्षक फणींद्र कुमार झा, विद्यालय प्रबंध समिति के सचिव सूर्य ज्योति वर्मा, विद्यालय के प्रभारी प्रधानाचार्य सुरेन्द्र तिवारी सहित विद्यालय के सभी आचार्य एवं छात्र-छात्राएं उपस्थित थें।

About नवीन सिंह परमार

Check Also

डाक्टर सुधीर कुमार की याद में शोक सभा

सिवान, 22 जुलाई। बुधवार को सीवान जिला नागरिक विकास परिषद के निराला नगर स्थिति कार्यलय …

Gram Masala Subodh kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published.