सीवान मंडल कारा बंदियों का भी बनेगा ई-श्रम कार्ड

सीवान, 03 फरवरी ( हि.स.)
मंडल कारा के बंदियों का भी ई-श्रम कार्ड बनाया जाएगा। इसके लिए श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के ई-श्रम पोर्टल पर बंदियों का पंजीकरण किया जाएगा। मंडल कारा के सहयोग से श्रम कार्यालय विभाग द्वारा बंदियों के पंजीकरण की आनलाइन प्रक्रिया शुरू की जाएगी। पंजीकरण के बाद सरकार द्वारा बंदियों को ई-श्रम कार्ड उपलब्ध कराया जाएगा।

सीवान श्रम अधीक्षक कार्यालय से मिली जानकारी अनुसार श्रम कार्ड के माध्यम से सभी को 12 अंकों का यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) जारी किया जाएगा। इस यूनिक कार्ड से उनकी पहचान की जा सके और श्रम कार्ड मिलने के बाद बंदियों को जेल से बाहर निकलने के बाद उन्हें रोजगार मुहैया कराया जा सके, ताकि बंदी भी समाज की मुख्य धारा में लौट सकें।

उल्लेखनीय हो कि ई-श्रम कार्ड धारक बंदियों का बीमा भी होगा। दुर्घटना में मौत होने पर इनके आश्रितों को दो लाख रुपये बीमा स्वरूप दिया जाएगा तथा दुर्घटना में स्थाई रूप से दिव्यांग होने की स्थिति में दो लाख रुपये तथा आंशिक दिव्यांगता की स्थिति में एक लाख रुपये की सहायता राशि बीमा कंपनी द्वारा दी जाएगी। ई-श्रम कार्ड धारकों को भविष्य में कई योजनाओं का लाभ दिया जाएगा। साथ ही इनके बच्चों को छात्रवृत्ति का भी लाभ मिलेगा। साथ ही खाद्यान योजना समेत अन्य योजनाओं का लाभ दिया जा सकेगा। योजना के अनुसार, भविष्य में रोजगार के लिए इन्हें बिना ब्याज क लोन दिया जाएगा, ताकि वे आत्मनिर्भर बन सकें। बेघर लोगों को पीएम आवास योजना के तहत घर मुहैया कराने की भी सरकार की योजना है। किसी भी सरकारी योजना की राशि सीधे उनके खाते में भेजा जाएगा।

श्रम अधिक्षक अजय कुमार ने बताया कि योग्य अभ्यर्थियों की उम्र 16 से 59 वर्ष आयुवर्ग के बीच होनी चाहिए। आयकर दाताओं को इसका लाभ नहीं मिल पाएगा। सबसे महत्वपूर्ण यह है कि अभ्यर्थियों को संगठित क्षेत्र का सदस्य नहीं होना चाहिए। आधार कार्ड डिटेल्स के अलावा शैक्षणिक योग्यता और रोजगार आदि का जिक्र पंजीकरण में अनिवार्य है।

About नवीन सिंह परमार

Check Also

सीवान में मुखिया के पति और भांजे की हत्या, पुलिस छावनी में तब्दील हुआ इलाका

👉 मृतक मुखिया पति विश्वकर्मा भी अपराधिक चरित्र का व्यक्ति था 👉 जिले के अलग-अलग …

Gram Masala Subodh kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published.