यमदूत है त्रिफला लाइट, ममता सरकार विफल : दिलीप

  • यमदूत  है त्रिफला लाइट, ममता सरकार विफल : दिलीप

कोलकाता, 25 सितंबर (हि.स.)। कोलकाता समेत राज्य के अन्य हिस्सों में लगातार बारिश के बाद बिजली के खंभों से झटके लगकर हो रही मौतों को लेकर भारतीय जनता पार्टी की पश्चिम बंगाल इकाई के पूर्व अध्यक्ष दिलीप घोष ने ममता सरकार पर लापरवाही का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि ममता सरकार ने सड़कों के दोनों तरफ जो त्रिफला लाइट लगाई है उसमें सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया गया है जिसकी वजह से ये लाइट्स बारिश के समय लोगों के लिए यमदूत बन चुकी हैं।
घोष ने शनिवार सुबह मॉर्निंग वॉक के दौरान उन्होंने कहा कि जितने खाली स्थान थे, जितने तालाब थे, उन्हें भरकर घर बनाए गए हैं। सिंडिकेट राज सीपीएम के समय से ही शुरू हो गया था। जमीन पर अवैध कब्जा कर लीज दी जा रही है। इस वजह से पानी निकलने के लिए जगह नहीं है।
दिलीप घोष ने चुटकी लेते हुए कहा कि इस संबंध में सरकार की कोई जिम्मेदारी नहीं है। पार्टी के नेता इस तरह से बात कर रहे हैं कि ऐसा लग रहा है जैसे उनकी कोई जिम्मेदारी ही नहीं है। दिलीप घोष ने यह भी आरोप लगाया कि ममता के नेता अमानवीय तरीके से बोल रहे हैं। उन्होंने टिप्पणी की कि सड़क के किनारे लगी लोहे की त्रिफला लाइट अब यमदूत बन गई है। दिलीप घोष ने कहा कि सरकार को अब कदम उठाना चाहिए ताकि कोई और हताहत न हो। उन्होंने कहा कि चेतावनी के साथ ही ऐसी दुर्घटनाओं को रोकने के उपाय किए जाने चाहिए।

न्यूटाउन में जलजमाव की समस्या के बारे में पूछे जाने पर दिलीप घोष ने कहा, “कुछ दिन पहले तक जगह थी। अब घर बढ़ रहे हैं। नियोजित शहर की बात करते हुए उन्होंने यह भी शिकायत की कि वहां जल निकासी की व्यवस्था ठीक नहीं है। दिलीप घोष कहते हैं कि नहर होते हुए भी वहां तक पानी पहुंचाने का रास्ता नहीं है।  ओम प्रकाश

About नवीन सिंह परमार

Check Also

मालदा की चाउमिन फैक्ट्री में लगी आग, लाखों का नुकसान

मालदा की चाउमिन फैक्ट्री में लगी आग, लाखों का नुक कोलकाता, 09 अक्टूबर (हि.स.)। पश्चिम …

Gram Masala Subodh kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published.