1971 के युद्ध की याद में 26 से 29 सितंबर तक विजय संस्कृति महोत्सव मनाएगी भारतीय सेना

1971 के युद्ध की याद में 26 से 29 सितंबर तक विजय संस्कृति महोत्सव मनाएगी भारतीय सेना

 

कोलकाता, 23 सितंबर (हि.स.)। बांग्लादेश को पाकिस्तान से आजाद कराने के लिए लड़े गए ऐतिहासिक 1971 के मुक्ति युद्ध की 50वीं सालगिरह पर इस बार भारतीय सेना कोलकाता में विजय संस्कृति उत्सव मनाने जा रही हैं। 26 से 29 सितंबर के बीच यह उत्सव कोलकाता के फोर्ट विलियम स्थित सेना के पूर्वी कमान मुख्यालय में आयोजित होगा।

 

16 दिसंबर को बांग्लादेश की मुक्ति और 1971 के भारत-पाक युद्ध में पाकिस्तान पर भारत की जीत के 50 साल पूरे होंगे।  भारत के इतिहास में इस ऐतिहासिक घटना को मनाने के लिए, पूरे देश में स्वर्णिम विजय वर्ष समारोह आयोजित किए जा रहे हैं।  युद्ध के दौरान भारत और बांग्लादेश के बीच सांस्कृतिक संबंधों को प्रदर्शित करने के उद्देश्य से “विजय सांस्कृतिक महोत्सव” आयोजित किया जा रहा है। इस दौरान फिल्म स्क्रीनिंग, थिएटर, नाटक, संगीत समारोहों और बैंड प्रदर्शनों की योजना बनाई गई है। ‌ इन पांच दिनों तक रबींद्र सदन और नंदन के प्रेक्षागृह में यह आयोजन होगा।  “विजय सांस्कृतिक महोत्सव” के दौरान 1971 के मुक्ति संग्राम में भारतीय सेना के सैनिकों और मुक्ति योद्धाओं की वीरता की विभिन्न कहानियों को भी प्रदर्शित किया जाएगा।

पूर्वी कमान के सेना कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे 26 सितंबर को कोलकाता के रवींद्र सदन में वीर नारियों, युद्ध के दिग्गजों, फिल्मी हस्तियों की उपस्थिति में इस कार्यक्रम का उद्घाटन करेंगे।  इस आयोजन की मुख्य विशेषताओं में एक फ्यूजन बैंड डिस्प्ले (आर्मी पाइप, ब्रास और जैज़ बैंड का एक समामेलन), प्रसिद्ध बंगाली प्ले बैक गायकों द्वारा प्रदर्शन और आरएसआर ग्रुप द्वारा 1971 के भारत-पाक युद्ध पर एक थिएटर नाटक शामिल हैं।  उपस्थित लोगों को पूर्वी कमान के पुराने वाहनों और उपकरणों के प्रदर्शन और फोर्ट विलियम मिलिट्री स्टेशन के निर्देशित दौरों को देखने का भी अवसर मिलेगा। हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश

1971 के युद्ध की याद में 26 से 29 सितंबर तक विजय संस्कृति महोत्सव मनाएगी भारतीय सेना

कोलकाता, 23 सितंबर (हि.स.)। बांग्लादेश को पाकिस्तान से आजाद कराने के लिए लड़े गए ऐतिहासिक 1971 के मुक्ति युद्ध की 50वीं सालगिरह पर इस बार भारतीय सेना कोलकाता में विजय संस्कृति उत्सव मनाने जा रही हैं। 26 से 29 सितंबर के बीच यह उत्सव कोलकाता के फोर्ट विलियम स्थित सेना के पूर्वी कमान मुख्यालय में आयोजित होगा।

16 दिसंबर को बांग्लादेश की मुक्ति और 1971 के भारत-पाक युद्ध में पाकिस्तान पर भारत की जीत के 50 साल पूरे होंगे। भारत के इतिहास में इस ऐतिहासिक घटना को मनाने के लिए, पूरे देश में स्वर्णिम विजय वर्ष समारोह आयोजित किए जा रहे हैं। युद्ध के दौरान भारत और बांग्लादेश के बीच सांस्कृतिक संबंधों को प्रदर्शित करने के उद्देश्य से “विजय सांस्कृतिक महोत्सव” आयोजित किया जा रहा है। इस दौरान फिल्म स्क्रीनिंग, थिएटर, नाटक, संगीत समारोहों और बैंड प्रदर्शनों की योजना बनाई गई है। ‌ इन पांच दिनों तक रबींद्र सदन और नंदन के प्रेक्षागृह में यह आयोजन होगा। “विजय सांस्कृतिक महोत्सव” के दौरान 1971 के मुक्ति संग्राम में भारतीय सेना के सैनिकों और मुक्ति योद्धाओं की वीरता की विभिन्न कहानियों को भी प्रदर्शित किया जाएगा।
पूर्वी कमान के सेना कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे 26 सितंबर को कोलकाता के रवींद्र सदन में वीर नारियों, युद्ध के दिग्गजों, फिल्मी हस्तियों की उपस्थिति में इस कार्यक्रम का उद्घाटन करेंगे। इस आयोजन की मुख्य विशेषताओं में एक फ्यूजन बैंड डिस्प्ले (आर्मी पाइप, ब्रास और जैज़ बैंड का एक समामेलन), प्रसिद्ध बंगाली प्ले बैक गायकों द्वारा प्रदर्शन और आरएसआर ग्रुप द्वारा 1971 के भारत-पाक युद्ध पर एक थिएटर नाटक शामिल हैं। उपस्थित लोगों को पूर्वी कमान के पुराने वाहनों और उपकरणों के प्रदर्शन और फोर्ट विलियम मिलिट्री स्टेशन के निर्देशित दौरों को देखने का भी अवसर मिलेगा। हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश

About नवीन सिंह परमार

Check Also

मालदा की चाउमिन फैक्ट्री में लगी आग, लाखों का नुकसान

मालदा की चाउमिन फैक्ट्री में लगी आग, लाखों का नुक कोलकाता, 09 अक्टूबर (हि.स.)। पश्चिम …

Gram Masala Subodh kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published.