बंगाल में आठ चरणों में मतदान के चुनाव आयोग के फैसले पर ममता ने उठाए सवाल

 

 

कोलकाता, 26 फरवरी: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य में आठ चरणों में चुनाव कराने संबंधी चुनाव आयोग के फैसले पर सवाल खड़ा किया है। शुक्रवार शाम आयोग की ओर से पश्चिम बंगाल सहित देशभर के पांच राज्यों में चुनाव की तारीखों की घोषणा किए जाने के तुरंत बाद ममता ने प्रेस कॉन्फ्रेंस किया। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग ने तारीखों की घोषणा की है, इसका स्वागत करते हैं लेकिन बाकी राज्यों में एक, दो और तीन चरणों में मतदान हो रहे हैं तो पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में मतदान क्यों हो रहा है? इशारे इशारे में चुनाव आयोग पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का दबाव होने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि गृह मंत्री पावर का दुरुपयोग ना करें। उन्होंने दावा किया कि जानबूझकर पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में मतदान कराए जा रहे हैं ताकि यहां हिंदू मुस्लिम के बीच बंटवारा किया जा सके। उन्होंने कहा कि भाजपा बाहुबल और धनबल का इस्तेमाल कर चुनाव जीतना चाहती है इसलिए पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में मतदान हो रहे हैं। अन्य राज्यों की विधानसभा सीटों की संख्या का जिक्र करते हुए ममता ने कहा कि बंगाल में अपेक्षाकृत मतदान केंद्रों की संख्या कम है लेकिन सबसे अधिक चरण में मतदान कराए जा रहे हैं। यह निश्चित तौर पर साजिश का हिस्सा है और इसका पर्दाफाश किया जाएगा। उन्होंने पश्चिम बंगाल में एक बार फिर अपनी सरकार की वापसी का दावा करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी चाहे जितनी कोशिश कर ले और जितना भी सत्ता का दुरुपयोग कर ले, पश्चिम बंगाल में उनकी सरकार बनने वाली नहीं है। बनर्जी ने कहा कि भाजपा के कहने पर बंगाल में आठ चरणों में चुनाव हो रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर भी हस्तक्षेप करने का आरोप लगाते हुए‌ बनर्जी ने कहा कि पीएम के कहने पर आठ चरणों में मतदान हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि बंगाल के खिलाफ साजिश धरी की धरी रह जाएंगी। बंगाल पर कोई बाहरी व्यक्ति शासन नहीं कर पाएगा।

About Sulochna Singh

Check Also

बेतिया : प्रांतीय खेलकूद प्रतियोगिता के तैयारियों की समीक्षा बैठक संपन्न

बेतिया : विद्या भारती की उत्तर बिहार प्रांत इकाई लोक शिक्षा समिति, बिहार के तत्वावधान …

Gram Masala Subodh kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published.