बहु रूजीरा से पूछताछ पर भड़की ममता ने कहा : निष्ठुर है भाजपा

लोगों से कहा, मैंने अपनी गलतियां सुधार ली है, आप मौका दीजिए

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मैराथन चुनाव प्रचार में जुटी हुई हैं। 22 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हुगली जिले के जिस शाहगंज मैदान में जनसभा की थी वहीं बुधवार को सीएम ने सभा की और केंद्र सरकार पर चुन-चुन कर हमला बोला। कोयला तस्करी के मामले में संदिग्ध संलिप्तता के आरोप में उनके भतीजे अभिषेक बनर्जी की पत्नी रूजीरा से हुई सीबीआई पूछताछ को लेकर भी उन्होंने तीखा प्रहार किया। ममता ने कहा, “वे हमारे घर में घुसकर बच्ची को कोयला चोर कहते हैं। ऐसे निष्ठुर भाजपा से लोगों को दूर रहना होगा। भाजपा वाले खुद कोयला चोरों के होटल में रहते हैं, उनके साथ कारोबार करते हैं और हमारे घर में घुसकर बहू बेटियों को कोयला चोर कह रहे हैं।”
उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि 2 महीने तक बर्दाश्त करुंगी उसके बाद देखूंगी कि किसमें कितना दम है।
उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की तुलना दानव से करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी जी और आप दानव बंधु जी 2 महीने बाद आपको लोकतंत्र की ताकत दिखाऊंगी।
लोकसभा चुनाव के दौरान जिले में तृणमूल कांग्रेस के खराब प्रदर्शन को लेकर ममता बनर्जी ने कहा कि हमने अपनी सारी गलतियों को सुधार लिया है आप भाजपा जैसी निष्ठुर पार्टी को मत लाइएगा। माकपा और कांग्रेस से भी दूर रहिए।
लोगों को राजनीतिक पार्टियों से रुपये लेने के लिए गैर कानूनी तरीके से उकसाते हुए ममता ने कहा कि आप पैसे ले लीजिए, मांस भात खाइए और वोट मुझे दीजिएगा। भाजपा नेताओं के गरीबों दलितों आदिवासियों और शरणार्थी समुदायों के घर भोजन करने पर भी उन्होंने तंज कसा। ममता ने कहा कि पहले एक बीड़ी तीन बार पीते थे अब 5 स्टार और 10 स्टार होटल में बैठ कर खाते हैं। गरीब व्यक्ति को ₹10000 रुरये दे देते हैं और उनके घर खाना खाने के बहाने फोटो खिंचवाने चले आते हैं। वे मिथ्यावादी, दंगावादी प्रति हिंसा वादी पार्टी हैं।

उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ट्रंप को जिताने अमेरिका गए थे लेकिन इनका हाल ट्रंप से भी बुरा होगा। उन्होंने कोयला तस्करों के साथ भाजपा के संबंधों का दावा करते हुए कहा कि दुर्गापुर में जिस होटल से पार्टी चला रहे हैं वह किसका है? ममता ने कहा कि भाजपा वाले सिर्फ मुझसे डरते हैं इसलिए मुझे धमका रहे हैं लेकिन मैं डरने वाली नहीं हूं। कितने लोगों को गिरफ्तार करोगे जेल तोड़कर बाहर आ जाएंगे।
केंद्रीय संस्थानों के निजीकरण का आरोप लगाते हुए ममता ने कहा कि उन्होंने एलआईसी का 75 फ़ीसदी निजीकरण कर दिया। अब एलआईसी कराने वालों को पैसा मिलेगा या नहीं इसमें संशय है।
—-
पीएम के खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल
– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री के खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल करते हुए ममता ने कहा कि एक दानव और रावण दोनों मिलकर सरकार चला रहे हैं। इस दौरान ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा प्रहार करते हुए उन्हें दंगाबाज और धंधाबाज भी कर डाला। ममता ने कहा कि वे तृणमूल नेताओं को तोलाबाज कहते हैं, मैं कहती हूं नरेंद्र मोदी दंगाबाज है, धंधेबाज है।
—-
रोजगार सृजन का आश्वासन
– हुगली में रोजगार सृजन का आश्वासन देते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि वह डनलप से डानकूनी और बर्दवान पुरुलिया तक रेल लाइन के किनारे उद्योग लगाएंगे जिससे हजारों लोगों को रोजगार मिलेगा। उन्होंने यह भी कहा कि राज्य के 45 लाख श्रमिकों को प्रति महीने ₹1000 का पेंशन दिया जाएगा। जून 2021 से विधवा महिलाओं को भी ₹1000 की पेंशन देने की घोषणा ममता ने की। डनलप के रबड़ कारखाने के अधिग्रहण के संबंध में जिक्र करते हुए ममता ने कहा कि इसके लिए उन्होंने चिट्ठी लिखी थी लेकिन नरेंद्र मोदी की सरकार ने अधिग्रहण नहीं करने दिया। उन्होंने कहा कि डनलप के मालिक पवन रुइया के खिलाफ केस दर्ज है। राज्य सरकार कर्मचारियों को ₹10000 का अनुदान देती है। ममता ने कहा कि भाजपा के शासन में महिलाएं सुरक्षित नहीं है जबकि तृणमूल के शासन में बंगाल में महिलाओं का सम्मान है। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने देश का सौदा करने का निर्णय लिया है और सारे फैसले लिए जा रहे हैं।

मुझे कई बार मारा पीटा गया
– वाममोर्चा शासन के दौरान अपने ऊपर हुए हमले को लेकर भावनात्मक तौर पर लोगों को खुद से जोड़ते हुए ममता ने कहा कि आपने मुझे कई बार मारा है। मेरे सिर में 46 टांके लगे हैं। मेरे सिर का ऑपरेशन हो चुका है। मेरी आंख का ऑपरेशन हुआ है। पेट का दो ऑपरेशन हुआ है। कमर में चोट लगी है। दोनों हाथ में चोट लगी है। इतना सब कुछ सहकर लोगों के लिए राजनीति कर रही हूं। मुझे डराया नहीं जा सकता। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बताना चाहिए कि नोटबंदी के दौरान जो पैसा लाने का वादा किए थे वह कहां गया? इस दौरान ममता बनर्जी ने भी खेला होबे का नारा लगाया।

About नवीन सिंह परमार

Check Also

बेतिया : प्रांतीय खेलकूद प्रतियोगिता के तैयारियों की समीक्षा बैठक संपन्न

बेतिया : विद्या भारती की उत्तर बिहार प्रांत इकाई लोक शिक्षा समिति, बिहार के तत्वावधान …

Gram Masala Subodh kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published.