तृणमूल की आपसी गुटबाजी में फिर चली गोली, पंचायत प्रधान की मौत

कोलकाता, 19 जनवरी। पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ताओं के बीच आपसी गुटबाजी लगातार हिंसक रूप लेती जा रही है। दक्षिण 24 परगना के कैनिंग के बाद अब दक्षिण दिनाजपुर जिले के गंगारामपुर में पार्टी की आपसी गुटबाजी में पंचायत प्रधान की मौत हो गई। मृतक की पहचान कालीपद सरकार के तौर पर हुई है। वह पंचायत समिति के अध्यक्ष थे। बताया गया है कि मंगलवार सुबह गंगारामपुर के सुकदेवपुर में जमीन विवाद को लेकर तृणमूल के दो गुटों में विवाद होने लगा। वहां कालीपद मौजूद थे। आरोप है कि दूसरे गुट ने हमले करने शुरू कर दिए। लगातार गोलीबारी और लाठी डंडे से हमले हो रहे थे। संजीत सरकार नाम के एक तृणमूल कर्मी के माथे में गोली लगी है। पुलिस के पहुंचने के बाद जब माहौल शांत हुआ तो कालीपद सरकार मृत हालत में पड़े हुए थे। इधर संजीत को गंभीर हालत में मालदह मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती किया गया है। घटना के बाद पूरे क्षेत्र में माहौल तनावपूर्ण हो गया है। संभावित संघर्ष को टालने के लिए अतिरिक्त संख्या में पुलिस कर्मियों की तैनाती की गई है। पुलिस का कहना है कि गोली लगने से मौत हुई है, या कोई और वजह है इसकी जांच हो रही है। तृणमूल नेतृत्व ने इस बारे में चुप्पी साध ली है। भाजपा नेता ने कहा है कि तृणमूल कांग्रेस का यही काम रह गया है। लोगों की हत्या करना, चाहे अपने हों या पराए कोई फर्क नहीं पड़ता।

About नवीन सिंह परमार

Check Also

पत्रकार के साथ बदसलूकी मामले में बांका न्यायालय सख्त, बीडीओ को कोर्ट में हाजिर होने का आदेश

एमित कुमार झा, रजौन/ बांका   बांका जिलांतर्गत अमरपुर प्रखंड विकास पदाधिकारी राकेश कुमार के …

Gram Masala Subodh kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published.