भाजपा की रैली में ईंट पत्थर फेंकने के बाद कर्मियों ने किया तोड़फोड़, शुभेंदु ने कहा : मोदी जी की तरह घर में घुसकर मारा हूं

लोक डेस्क, कोलकाता, 18 जनवरी। दक्षिण कोलकाता में भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी और प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष की रैली में तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा ईंट पत्थर फेंकने को लेकर तनाव पसर गया है। टॉलीगंज मेट्रो स्टेशन से रासबिहारी मोड़ तक निकाली गई रैली में तृणमूल कांग्रेस के लोगों ने पत्थर फेंके जिसमें कार्यकर्ता घायल हो गए हैं। इसके बाद नाराज भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी पलटवार किया और इलाके में तोड़फोड़ शुरू कर दी। बाइक और सड़कों पर लगे ममता बनर्जी के पोस्टर भी तोड़ दिए गए। इसके बाद रैली के समापन पर शुभेंदु अधिकारी ने संबोधन किया जहां उन्होंने कहा कि मोदी जी की तरह घर में घुसकर मारा हूं। उन्होंने कहा कि किस तरह से अन्याय हो रहा है यह लोग खुलेआम देख रहे हैं। अनुमति मिलने के बावजूद रैली में पत्थर फेंके जा रहे हैं। ऐसा कहीं होता है कि कार्यकर्ताओं पर सीधे ईंट पत्थर बरसाए जाएं। बंगाल में जंगलराज कायम कर दिया गया है। पुलिस को दल दास बनाकर कार्यकर्ता की तरह इस्तेमाल किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की बढ़ती ताकत से डरकर तृणमूल कांग्रेस हिंसा का सहारा ले रही है। उल्लेखनीय है कि तृणमूल की ओर से भाजपा की रैली में कथित तौर पर हमले के बाद माहौल तनावपूर्ण हो गया था तो भारी संख्या में पुलिस की टीम पहुंच गई थी। घटनास्थल पर मंत्री और तृणमूल नेता अरूप राय भी पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि तृणमूल नहीं बल्कि भाजपा कर्मियों ने हमला किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता बैनर पोस्टर लगा रहे थे तब भाजपा के कार्यकर्ताओं ने हमला कर दिया। ममता बनर्जी की तस्वीर भी तोड़ दी। हालांकि प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया है कि प्रिंस अनवर शाह रोड पर शुभेंदु अधिकारी के सामने तृणमूल कांग्रेस के लोगों ने काले झंडे दिखाए और मीरजाफर गो बैक के नारे लगाए।
उल्लेखनीय है कि इसके पहले खिदिरपुर इलाके में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और प्रदेश प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय की रैली में भी जूते फेंके गए थे।

About नवीन सिंह परमार

Check Also

डाक्टर सुधीर कुमार की याद में शोक सभा

सिवान, 22 जुलाई। बुधवार को सीवान जिला नागरिक विकास परिषद के निराला नगर स्थिति कार्यलय …

Gram Masala Subodh kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published.